फ. म. शहाजिंदे

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

फ. म. शहाजिंदे ‍‍ साहित्यकार, कवि, आलोचक, समाजसेवक और कलम के सिपाही फ. म. शहाजिंदे ‍‍ का नाम फकरीपाशा महेबूब शहाजिंदे हैं. इनका तख़ल्लुस फ. म. शहाजिंदे (F. M. Shahajinde) (ایف. ایم شاہجندی) हैं. वह क़स्बा सास्तूर जिला उस्मानाबाद में 3 जुलै 1946 को पैदा हुए.आपके पिता का नाम महेबूब था. मराठी साहित्य में कविता की परम्परा बहुत लम्बी है, उनमे से फ. म. शहाजिंदे हैं. वे मराठी के विद्वान, जानेमाने कवि एवं लेखक है. जिनकी कई रचनाए प्रकाशित हो चुकी हैं. शहाजिंदे की रचना को महाराष्ट्र सरकार के कई पुरस्कार मिल चुके हैं. आपकी कुछ कृतियों के हिंदी तथाअंग्रेज़ी एवं अन्य भाषाओं में अनुवाद भी उपलब्ध हैं. इनकी कई कहानियों के नाट्यरूपंतर और सफल मंचन हुए हैं। भारतीय कृषि जीवन पर उनकी चर्चित संग्रह शेतकरी को मराठी आलोचको ने काफी सराहा हैं.

शहाजिंंदे के कई कविताओंका हिंदी और अंग्रेजी भाषाओं में अनुवाद हुआ हैं. साथ उनकी कई रचनाए कर्नाटक विश्वविद्यालय, शिवाजी विश्वविद्यालय (कोल्हा्पूर) डॉ. बाबासाहब मराठवाड़ा विश्वविद्यालय (औरंगाबाद) के पाठ्यक्रम में शामील किया गया हैं.

प्रकाशित कृतियाँ[संपादित करें]

कविता संग्रह :

  • निधर्मी, (1980)
  • शेतकरी (मराठवाडी बोली में दीर्घ खंडकाव्य) (1986)
  • आदम (1991)
  • ग्वाही (1996)
  • मराठवाड्यातील कविता (संपादन) (1999)
  • झोंबणी (2013)

समीक्षा :

  • इत्यर्थ (1987)
  • सारांश (1987)

लेख संग्रह :

  • You in Me, (मी-तू का अंग्रेजी अनुवाद) - अनुवादक अशोक भूपटकर- (2016)
  • मी तू (पत्रात्मक उपन्यास) (1984)
  • अनुभव (निबंध) (1997)
  • वाकळ (स्फुट लेखसंग्रह) (2004)
  • मुस्लिम मराठी साहित्य:  परंपरा, स्वरूप आणि लेखक सूची (संपादन) (2004)
  • पुरचुंडी (संपादन) (2005)
  • मूठभर माती: आशय व अन्वयार्थ (संपादन) (2008)
  • प्रत्यय (वैचारिक लेखसंग्रह) (2013)

आगामी कृतियाँ[संपादित करें]

  • दखलपात्र शब्दांचा उरूस (कविता संग्रह) भूमी प्रकाशन, लातूर
  • शेवटच्या कविता (कविता संग्रह) (आगामी) भूमी प्रकाशन, लातूर

पुरस्कार[संपादित करें]

  • निधर्मी- महाराष्ट्र सरकार का कवी केशवसुत पुरस्कार (१९८२)
  • मी-तू- महाराष्ट्र सरकार का चर्चित उपन्यास (१९८५)
  • शेतकरी- महाराष्ट्र राज्य सरकार पुरस्कार (१९८८)
  • यशवंतराव चव्हाण स्मृती समारोह समितिअंबेजोगाई साहित्य पुरस्कार (१९९०)
  • हमीद दलवाई पुरस्कार, मुंबई (१९९४)
  • मारुती मगर साहित्य सेवा पुरस्कार, लातूर (२००२)
  • तुका म्हणे साहित्य पुरस्कार, बुलडाणा (२००४)
  • शिक्षक रत्न पुरस्कार, मुंबई (२००७)
  • सुशीलकुमार शिंदे साहित्य गौरव पुरस्कार, सोलापूर (२०१४)

सन्मान[संपादित करें]

  • अध्यक्ष- पाचवाँ मराठवाडा युवक साहित्य संमेलन, वाकुळणी, जिला जालना- १९८६
  • अध्यक्ष-  पहिला अखील भारतीय मुस्लिम मराठी साहित्य संमेलन,  सोलापूर- १९९०
  • अध्यक्ष- ग्याराहवाँअंकुर साहित्य संमेलन लोणार , जिला बुलडाणा-१९९१
  • अध्यक्ष- पहिला लातूर जिल्हा मराठी साहित्य संमेलन, निलंगा जिला लातूर, १९९९
  • अध्यक्ष-  पाचवाँ पुरोगामी मराठी साहित्य संमेलन, कंधार जिला नांदेड-२०००
  • अध्यक्ष- कवि संमेलन, २९ वा मराठवाडा साहित्य संमेलन उंडणगाव जिला औरंगाबाद-२००७
  • अध्यक्ष- तिसरा शेकोटी साहित्य संमेलन, धारगळ, गोवा २००७
  • अध्यक्ष- कवी संमेलन, ३२ वा मराठवाडा साहित्य संमेलन, मुरुड, जिला लातूर २०१०
  • अध्यक्ष- कवी संमेलन, ३७ वा मराठवाडा साहित्य संमेलन, जालना- २०१६