फोरेंसिक सीरम विज्ञान

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

फोरेंसिक सीरम विज्ञान एक आवेदन है फॉरेंसिक जीवविज्ञान का। फोरेंसिक सीरम विज्ञान मै अध्ययन होता है शरीर के द्रव का जेसे की खून, वीर्य, मल , पसीना और लार का और इनका विश्लेषण और रिश्ता अपराधिक स्थान से क्या है। फॉरेंसिक सीमर जाँच मै डीएनए और खून के निशान भी कभी कभी शामिल किये जा सकते है। फॉरेंसिक सीमर विज्ञान जाँच आती है सरे शरीरी द्रव की।

रक्त का विश्लेषण[संपादित करें]

कोई भी अपराधिक स्थान पर रक्त मिलना एक आम बात है। रक्त का विश्लेषण करने के लिए २ तरह के परीक्षण किये जाते है।

  • उत्प्रेरक परीक्षण (catalytic test)- जेसे की हेम हेमास्तिक्स (Hemastix) या कस्तले-मेयेर परिक्षण (Kastle-Meyer test)।
  • क्रिस्टल परीक्षण (crystal test)- जेसे की ताकयामा क्रिस्टल परिक्षण (Takayama crystal test)।

वीर्य का विश्लेषण[संपादित करें]

जादा कर वीर्य बलात्कार के अपराध मे पाया जाता है। वीर्य का विश्लेषण करने के लिए परीक्षण किये जाते है वो है:

  • यूवी परीक्षण (UV test)
  • एसिड फॉस्फेट परीक्षण (Acid Phosphatase test)
  • सूक्ष्म स्लाइड शुक्राणु की (microscopic slide of spermatozoa)

लार का विश्लेषण[संपादित करें]

  • अल्फा-एमिलेज परीक्षण (alpha-amylase test) जो स्टार्च के साथ प्रतिक्रिया कर के रंग देता है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  • Fundamentals of Forensic Science By Max M. Houck, Jay A. Siegel p. 229 Publisher: Academic Press; 2 edition (February 3, 2010) Language: English ISBN 0-12-374989-1
  • Criminal Investigation by Ronald F. Becker P. 8 Publisher: Jones & Bartlett Publishers; 3 edition (August 22, 2008) Language: English ISBN 0-7637-5522-2