फोरेंसिक ऑडियो

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

ऑडियो फॉरेंसिक क्षेत्र हैन्यायालयिक विज्ञान का ही जो संबंधित है अधिग्रहण, विश्लेषण, और ध्वनि रिकॉर्डिंग के मूल्यांकन का जो कानूनी कारवाई की एक अदालत में स्वीकार्य साक्ष्य के रूप में प्रस्तुत किया जाता है। ऑडियो फॉरेंसिक में वो सबूत आते हैं जो ध्वनी से जुड़े हुए हैं। जेसे मोबाइल फ़ोन की रिकॉर्डिंग, लोगो की दी गये हुए गवाही, किसी अपराधिक स्थान पर मिले सबूत आदि। ऑडियो फॉरेंसिक कई प्रयोगशाला मैं अलग से विभाग है और कई प्रयोगशाला मैं फॉरेंसिक भौतिक विज्ञान के विभाग मैं आता है। इनका मुख्य काम है

  • आए हुए टेप की जाँच करना और ऑडियो सबूत की प्रामाणिकता की स्थापना करना।
  • टेप में हुए रिकॉर्डिंग की जाच।
  • भाषण बोधगम्यता में सुधार करने के लिए ऑडियो रिकॉर्डिंग के प्रदर्शन वृद्धि करना।

आधुनिक ऑडियो फोरेंसिक, डिजिटल सिग्नल प्रोसेसिंग के व्यापक उपयोग करता है। डिजिटल सिग्नल प्रोसेसिंग जो आसानी से और जल्दी विश्लेषण कर के परिणाम देदेता है।

ऑडियो फोरेंसिक तकनीक में हाल के अग्रिमों आवाज बॉयोमीट्रिक्स और बिजली के नेटवर्क आवृत्ति विश्लेषण शामिल हैं।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  • Phil Manchester (January 2010). "An Introduction To Forensic Audio". Sound on Sound.
  • Maher, Robert C. (March 2009). "Audio forensic examination: authenticity, enhancement, and interpretation". IEEE Signal Processing Magazine. 26: 84–94. doi:10.1109/msp.2008.931080
  • Alexander Gelfand (10 October 2007). "Audio Forensics Experts Reveal (Some) Secrets". Wired Magazine.