फॉरेंसिक प्रोफाइलिंग

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

फॉरेंसिक प्रोफाइलिंग आदेश की जानकारी को विकसित करने में सबूत का पता लगाने के अध्ययन है जो पुलिस अधिकारियों द्वारा इस्तेमाल किया जा सकता है। फॉरेंसिक शब्द का मतलब है जानकारी जो कि सबूत के तौर पर अदालत में इस्तेमाल किया जाता है। फॉरेंसिक प्रोफाइलिंग अलग है अपराधी प्रोफाइलिंग से, अपराधी प्रोफाइलिंग सिर्फ पहचान करता है अपराधी की उसकी मनोवैज्ञानिक प्रोफाइल पर।

प्रोफाइलिंग तकनीक[संपादित करें]

फॉरेंसिक प्रोफाइलिंग आम तौर पर, डेटा माइनिंग प्रौद्योगिकी का उपयोग कर एक साधन है जिसके द्वारा प्रासंगिक पैटर्न की खोज कर रहे हैं के रूप में आयोजित किया जाता है, और प्रोफाइल डेटा की एक बड़ी मात्रा से उत्पन्न कर रहे हैं।

मौजूद डेटा[संपादित करें]

डेटा कानून प्रवर्तन एजेंसियों के लिए उपलब्ध दो श्रेणियों में विभाजित किया गया है।

सांकेतिक डेटा नाम से ही पता लगता है की यह किसी व्यक्ति, चीजे और उनके साथ जुड़ा हुआ है। यह वह भी डाटा हो सकता है जो मोबाइल फ़ोन से मिला हो या किसी जासूसी मे मिला हो उसकी जाँच की जाती है।

अपराध डेटा डेटा जो अपराधिक प्स्थान से प्राप्त हुआ हो या सबूत जैसे की आपराधिक गतिविधियों: शारीरिक निशान, अन्य जानकारी घटनास्थल पर एकत्र , गवाह या शिकार या कुछ इलेक्ट्रॉनिक निशान से।

प्रकार[संपादित करें]

  • डीएनए प्रोफाइलिंग
  • डिजिटल छवि फोरेंसिक
  • अवैध नशीली दवाओं की रूपरेखा
  • फोरेंसिक सूचना प्रौद्योगिकी
  • अपराधी के मनोवैज्ञानिक प्रोफाइलिंग

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Geradts, Zeno; Sommer, Peter (2006), "D6.1: Forensic Implications of Identity Management Systems" (PDF), FIDIS Deliverables, 6 (1), मूल (PDF) से 3 मार्च 2016 को पुरालेखित, अभिगमन तिथि 3 सितंबर 2016
  2. Geradts, Zeno; Sommer, Peter (2008), "D6.7c: Forensic Profiling" (PDF), FIDIS Deliverables, 6 (7c), मूल (PDF) से 3 मार्च 2016 को पुरालेखित, अभिगमन तिथि 3 सितंबर 2016
  3. Popescu, A.C.; Farid, H. (2005), "Exposing digital forgeries in color filter array interpolated images", IEEE Transactions on Signal Processing, 167 (53): 3948–3959, डीओआइ:10.1109/TSP.2005.855406, मूल से 6 जून 2011 को पुरालेखित, अभिगमन तिथि 3 सितंबर 2016