फेदेरिका मुनसेनी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

फेदेरिका मुनसेनी
Federica Montseny

फेदेरिका मुनसेनी

स्वास्थ्य और सामाजिक नीति मंत्री
कार्यकाल
4 नवम्बर 1936 – 17 मई 1937
पूर्व अधिकारी होसे टॉमस याय पियेरा
उत्तराधिकारी हेसुस हर्नांडेज़ टॉमस (स्वास्थ्य)
हाएमे आएगुआदे याय मिरो (सामाजिक निति)

जन्म 12 फ़रवरी 1905
मैड्रिड, स्पेन
मृत्यु जनवरी 14, 1994(1994-01-14) (उम्र 88)
तुलूज़, फ्रांस
संतान वीदा इज़ग्लिय्स मुनसेनी
हर्मिनाल इज़ग्लिय्स मुनसेनी
ब्लांका इज़ग्लिय्स मुनसेनी

फेदेरिका मुनसेनी ई मान्ये (कैटलन : Frederica Montseny i Mañé; 12 फ़रवरी 1905 – 14 जनवरी 1994) स्पेनी कातालोन्याई अराजकतावादी और बुद्धिजीवी थीं। ये स्पेनी गृहयुद्ध के समानांतर घटित हुई स्पेनी क्रान्ति के दौरान स्पेन की स्वास्थ्य और सामाजिक नीति मंत्री थीं। राजनितिक जीवन के अलावा मुनसेनी कवि, उपन्यासकार, निबंधकार और बच्चों की लेखिका भी थीं, जिन्होंने अराजकतावादी नारीवाद और अराजकतावादी नग्नतावाद का भी प्रचार किया।

प्रारंभिक जीवन[संपादित करें]

मुनसेनी का जन्म स्पेन की राजधानी मैड्रिड में कातालोन्याई परिवार में 12 फ़रवरी 1905 को हुआ था। इनके माता व पिता दोनों अराजकतावादी पत्रिका ला रेविस्ता ब्लांका (1898–1905) के सह-सम्पादक थे। इनके स्वयं के शब्दों के अनुसार एक ऐसे परिवार की बेटी थीं जो पुरानी अराजकतावादी विचारधारा में विशवास रखता था। इनके पिता जॉन मुनसेनी सत्तावादी विरोधी लेखक और प्रचारक थे तथा इनकी माता सोलेदाद गुस्तावो स्वयं अराजकतावादी कार्यकर्ता थीं। 1912 में इनका परिवार वापस अपने मूल क्षेत्र कातालोन्या रहने चला गया जहाँ उन्होंने एक प्रकाशन कम्पनी की स्थापना की जिसका मुख्य उद्देश्य या विशेषता मुक्तिवादी साहित्य का प्रकाशन था।

मुनसेनी अराजकतावादी मज़दूर संघ सीएनटी (स्पेनी: Confederación Nacional del Trabajo) की सदस्य रहीं और सोलिदारिदाद ओब्रेरा, टीयरे ई लिब्रताद और नुएवा सेन्दा जैसी अराजकतावादी पत्रिकाओ के लिए लेख लिखे। 1927 में इन्होंने ऍफ़एआई (स्पेनी: Federación Anarquista Ibérica) की सदस्यता प्राप्त की।

राजनितिक जीवन[संपादित करें]

स्पेनी गृहयुद्ध के दौरान मुनसेनी ने गणतंत्रवादी सरकार का समर्थन किया। इन्होंने गणतंत्रवादी अधिकृत क्षेत्र में अहिंसा के प्रयासों के प्रति विरोध दर्ज किया। नवम्बर 1936 में मुनसेनी को फ्राँसिस्को लार्गो क्बायेरो ने स्वास्थ्य मंत्री नियुक्त किया। इस नियुक्ति के पश्चात ये स्पेन के इतिहास में पहली ऐसी महिला बनीं जिन्होंने सरकार में कैबिनेट मंत्रालय सम्भाला। ये पश्चिमी यूरोप में की कुछ उन पहली महिला मंत्रियों में से भी एक थी; इनसे पहले केवल डेनमार्क और फिनलैंड में महिलाओं को सरकार में मंत्री के तौर पर शामिल किया गया था।[1]

स्वास्थ्य मंत्री के तौर पर मुनसेनी ने सार्वजनिक स्वास्थ्य सेवा में बड़े बदलाव लाने का लक्ष्य रखा जिस से गरीबो और श्रमिक वर्ग की आवश्यकताओं का ध्यान रखा जा सके। इस उद्देश्य पूर्ति के लिए इन्होंने विकेन्द्रीकृत, स्थानीय रूप से अनुक्रियाशील और निवारक स्वास्थ्य देखभाल कार्यक्रमों का समर्थन किया।[1]

देश से निर्वासन[संपादित करें]

स्पेनी गृहयुद्ध में इनकी भूमिका की वजह से मुनसेनी को स्पेन से 1939 में निर्वासित कर दिया गया था। निर्वासन के पश्चात ये फ्रांस रहने चली गईं। वहाँ रह कर इन्होंने कई किताबो की रचना की, हालांकि इनमें से केवल कुछ ही राजनीति से सम्बन्धित थीं। फ्रांस के तुलूज़ शहर में 14 जनवरी 1994 को इनकी मृत्यु हुई।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. एलेक्ज़ेंडर, रोबर्ट जे. (1 जनवरी 1999). The Anarchists in the Spanish Civil War. जेनस पब्लिशिंग कम्पनी लिमिटेड. पृ॰ 892–894. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-1-85756-412-9. http://books.google.com/books?id=axe1Tf4Lu6gC&pg=PA892. अभिगमन तिथि: 2 अप्रैल 2014. 

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]