फिल्टर (संकेत प्रसंस्करण)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
आवृत्ति रिस्पॉन्स के अनुसार विभिन्न प्रकार के फिटर

संकेत प्रसंस्करण के सन्दर्भ में, उस युक्ति या प्रक्रिया को फिल्टर (filter) कहते हैं जो संकेत (सिगनल) से कुछ अवांछित अवयवों या विशेषताओं को निकाल देता है। उदाहरण के लिये 'लो पास फिल्टर' किसी सिगनल के उन अवयवों को तो आउटपुट में जाने देता है जो कम आवृत्ति के हों किन्तु यह फिल्टर उस संकेत के अधिक आवृत्ति वाले भागों को आउटपुट में जाने से रोक देता है या कम कर देता है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]