फिर सुबह होगी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
फिर सुबह होगी
शैली नाटक
सर्जक सौरभ श्रीवास्तव
लेखक सौरभ श्रीवास्तव
निर्देशक वसीम सबीर
सितारे गुलकी जोशी और नन्दीश साधू
निर्माण का देश भारत भारत
भाषा(एं) हिन्दी
सत्र संख्या
शृंखलाओं की संख्या ६९ जुलाई २७, २०१२ से
निर्माण
निर्माता राजेश चढा और सौरभ श्रीवास्तव
स्थल बुंदेलखंड
कैमरा सेटअप मल्टी कैमरा
निर्माण कंपनी पंग्लोसेँ एन्तेर्तैन्मेंट
प्रसारण
मूल चैनल ज़ी टीवी
छवि प्रारूप 576i (SDTV)
1080i (HDTV)
अप्रैल १७, २०१२ - अब
बाह्य सूत्र
आधिकारिक जालस्थल

फिर सुबह होगी एक भारतीय नाटक ऑपेरा श्रृंखला है कि वर्तमान में बुंदेलखंड क्षेत्र की बेदिया समुदाय, मध्य प्रदेश के बारे में ज़ी टीवी पर ऐर जाता है[1] पर प्रीमियर हुआ ૧૭ अप्रैल, ૨૦૧૨। यह हर सोम - शुक्र ૦૯:૩૦ ऐर। यह महाबलेश्वर के पास वाई गांव[2] में गोली मार दी जा रही है।

कहानी[संपादित करें]

यह कहानी सुगनी नामक एक लड़की की है। जिसका कोई लक्ष्य नहीं था और कोई आशा भी नहीं था। वह केवल अपने माँ के जैसे वही कार्य को कर रही थी। लेकिन उसे जब बाहरी दुनिया के बारे में पता चलता है तो उसे भी इच्छा होती है कि वह भी उसी प्रकार जीवन बिताए जैसे अन्य लोग। इसी पर यह कहानी आधारित है।

कलाकार[संपादित करें]

पुरस्कार[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Gulki Joshi to play lead role in Phir Subah Hogi". द टाइम्स ऑफ़ इण्डिया. Apr 4, 2012.
  2. "Gulki Joshi's big plunge". The Times of India. Apr 25, 2012.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]