प्रौद्योगिकी विकास बोर्ड (भारत)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

भारत सरकार ने स्वदेशी प्रौद्योगिकी के विकास और वाणिज्यीकरण का संवर्धन करने तथा व्यापक प्रयोग के लिए आयातित प्रौद्योगिक को अनुकूल बनाने के लिए प्रौद्योगिकी विकास बोर्ड अधिनियम 1995 के अन्तर्गत सितम्बर, 1996 में एक सांविधिक निकाय के रूप में प्रौद्योगिकी विकास बोर्ड (Technology Development Board / टी डी बी) का गठन किया इस बोर्ड में 11 बोर्ड सदस्य हैं। सरकार ने मार्च 2000 में बोर्ड का पुनर्गठन किया।

स्वदेशी अनुसंधान के परणाम को वाणिज्यीकृत्त करने के एकल उद्देश्य से सरकारी ढांचे के भीतर टी डी बी अपनी तरह का पहला संगठन है।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]