प्रीति सिंह

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
प्रीति सिंह
Preeti Singh 01.jpg
प्रीति सिंह
जन्म26 अक्टूबर 1971
अम्बाला, भारत
व्यवसायलेखिका
राष्ट्रीयताभारतीय
उच्च शिक्षाला मार्टिनियर स्कूल, लखनऊ
एमसीएम डीएवी वुमन कॉलेज, चंडीगढ़
पंजाब विश्वविद्यालय
इंदिरा गाँधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय, दिल्ली
विधाउपन्यास
उल्लेखनीय कार्यsफ्लर्टिंग विथ फेट (२०१२)
क्रॉसरोड्स (२०१४)[1]
वॉच्ड[2]
सन्तानहर्षीन कौर (पुत्री)
जालस्थल
http://www.writingnaturally.com/

प्रीति सिंह (जन्म: २६ अक्टूबर १९७१) चंडीगढ़ में स्थित एक लेखिका, उपन्यासकार हैं। प्रीति पिछले १५ सालो से एक पेशेवर लेखक के रूप में काम कर रही है।[3] २०१२ में महावीर पब्लिशर्स द्वारा प्रकाशित इनका पहला उपन्यास "फ्लर्टिंग विथ फेट" बेस्ट सेलिंग उपन्यास रहा और वे अपनी दूसरी किताब "क्रॉसरोड्स" के साथ एक अवॉर्ड विजेता लेखिका बन चुकी हैं।[4] १७ दिसंबर, २०१५ साहित्यकार प्रीति सिंह को अनुपमा फाउंडेशन द्वारा स्वयंसिद्धा सम्मान से पुरस्कृत किया गया।[5] साल २०१६ में इनकी तीसरी पुस्तक वॉच्ड, जो एक क्राइम थ्रिलर उपन्यास हैं, का प्रकाशन ओमजी पब्लिशिंग हाउस द्वारा किया गया।[6][7]

जीवनी[संपादित करें]

प्रीति सिंह एक सैनिक परिवार से ताल्लुक रखती हैं। उसके पिता मेजर जनरल श्री कुलवंत सिंह भारतीय सेना से सेवानिवृत्त हुए हैं और इनकी दिवंगत माँ, श्रीमती सोन्या सिंह, जिनका फेफड़ों के कैंसर के कारण निधन हो गया हैं। प्रीति ने अपनी स्कूली शिक्षा ला मार्टिनियर स्कूल, लखनऊ से किया। वें अंग्रेजी ऑनर्स के साथ एमसीएम डीएवी वुमन कॉलेज, चंडीगढ़ से स्नातक और पंजाब विश्वविद्यालय, चंडीगढ़ से अंग्रेजी साहित्य में परास्नातक हैं। इंदिरा गाँधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय, दिल्ली से प्रीति सिंह ने पत्रकारिता एवं जनसंचार में स्नातकोत्तर डिप्लोमा हासिल की और एमिटी विश्वविद्यालय, नोएडा के साथ एक सम्पादक के रूप में अपने कैरियर शुरू किया। अन्नामलाई विश्वविद्यालय से बी.एड करने के बाद देश के विभिन्न आर्मी स्कूलों में अध्यापन का कार्य किया। इसके पूर्व वें एक रचनात्मक सामग्री लेखक के रूप में एक एसईओ कंपनी में भी कार्य कर चुकी थी। वर्तमान में वें चंडीगढ़ में बसी हुई हैं।[8]

प्रकाशित पुस्तके[संपादित करें]

  • फ्लर्टिंग विथ फेट (२०१२)
  • क्रॉसरोड्स (२०१४)[9][10][11]
  • वॉच्ड (२०१६)[12]

पुरस्कार[संपादित करें]

  • राष्ट्रमंडल बुकर पुरस्कार २०१२ के लिए नामांकित और २०१२ के बेस्ट डेब्यू अपराध कथा उपन्यास पुरस्कृत।
  • अनीश भनोट द्वारा जारी चंडीगढ़ की प्रमुख हस्तियों की कॉफी टेबल पुस्तक में छपा।
  • प्रीति सिंह को १७ दिसंबर, २०१५ को अनुपमा फाउंडेशन द्वारा स्वयंसिद्धा पुरस्कार से सम्मानित किया गया।[13]
  • इन्हें क्रॉसवर्ड के लिए साहित्यिक संस्था आगमन परिवार द्वारा बेस्ट ऑथर अवॉर्ड-2016 से सम्मानित किया गया।[14]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "भारतीय नारी की मनोस्थिति का चिट्ठा 'क्रॉसरोड्स'". 16 अप्रैल 2014. अभिगमन तिथि 6 दिसम्बर 2016.
  2. "लेखिका प्रीति सिंह की क्राइमथ्रिलर बुक "वॉच्ड" का विमोचन". आज समाज. दिसंबर २४, २०१६.
  3. "प्रीति सिंह ने शहर में समकालीन कथा कहानी संसार को प्रस्तुत किया". स्वदेश न्यूज़. Apr 16. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  4. "Torn between commitment and desire", The Tribune, 18 अप्रैल 2014
  5. "स्वयंसिद्धा अवॉर्ड विभूतियाँ सम्मानित". Dainik Jagran. December 18, 2015.
  6. "क्राइम से बचने के लिए अपने आसपास नजर रखें". दैनिक जागरण . अक्टूबर २३, २०१६.
  7. "सस्पेंस से भरपूर क्राइम थिलर वॉच्ड: प्रीति". दैनिक सवेरा. अक्टूबर २३, २०१६.
  8. "The Road Less Travelled", The Indian Express, 19 अप्रैल 2014
  9. "सिटी इवेंट्स@चंडीगढ़". अमर उजाला.
  10. "क्रॉसरोअड्स हर नारी की कहानी", सत्य सन्देश, अप्रैल १७, २०१४]
  11. "किताब ऐसी", अमर उजाला , अप्रैल १७, २०१४]
  12. "क्राइमथ्रिलर वॉच्ड रिलीज़". पंजाब केसरी. अक्टूबर २४, २०१६.
  13. "योगदान के लिए सम्मानित हुई महिलाएं". Amar Ujala. December 18, 2015.
  14. "क्राइमथ्रिलर 'वॉच्ड' की मुख्य पात्र किंजल जोशी". दैनिक भास्कर. अक्टूबर 29, 2016.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]