प्रियम रेडिकान

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

प्रियम रेडिकान अपनी ‘स्पोकन वर्ड पोएट्री’ के लिए जानी जाती हैं।[1]

करियर[संपादित करें]

वैसे एक कवयित्री[2] होने के अलावा भी वो कई गुर रखती हैं। वह एक मनोचिकित्सक[3] भी हैं, जिन्होंने आत्महत्या के बारे में सोचने वाले लोगों के लिए हेल्पलाइन बनाई और थेरेपी वर्कशाप्स का आयोजन करती थीं। प्रियम ने एक स्कूल में पढ़ाया और एक आईटी कंपनी में कॉरपोरेट ट्रेनर भी रहीं।[4]

निजी जीवन[संपादित करें]

प्रियम एक भारतीय और आयरिश दंपति की संतान हैं। उनका बचपन महाराष्ट्र के छोटे से गांव जेजूरी में बीता।[5]

पिता और भाई की बदौलत उनकी दिलचस्पी कविता लिखने और उसका पाठ करने में, यानी ‘स्पोकन वर्ड पोएट्री’ में हुई।[6]

दिलचस्पी[संपादित करें]

उनकी दिलचस्पी जेन ऑस्टेन, शेक्सपीयर और ब्लेक से लेकर परंपरागत गीत और भजन तक में है। उनकी कविता में जीवन के प्रति संतुलित नज़रिया देखने को मिलता है।

स्पोकन वर्ड पोएट्री[संपादित करें]

उनकी कविता ‘ऑफ मैरिजेबल एज’[7] इंटरनेट पर वायरल हो चुकी है। अब वो अरुणाचल प्रदेश में स्थानीय स्कूली बच्चों को स्पोकन वर्ड पोएट्री सिखाने वाली हैं।[8]

एक्सटर्नल लिंक्स[संपादित करें]

फ़ेसबुक - https://www.facebook.com/priyam.redican

सन्दर्भ[संपादित करें]