प्रायोगिक भाषाविज्ञान

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

प्रायोगिक भाषाविज्ञान या संकेतप्रयोगविज्ञान (Pragmatics), भाषाविज्ञान का एक उपक्षेत्र है जिसमें इस बात का अध्यन किया जाता है कि प्रसंग (context) के अनुसार अर्थ कैसे बदलते हैं।