प्रायिकता मान

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

संभाव्यता मान (प्रोबैब्लिटी वैल्यू / पी-वैल्यू) सांख्यिकी आंकड़ा परीक्षण में दिए गए सांख्यिकीय प्रतिरूप में संभाव्यता का मान होता है। यह नल परिकल्पना के विरुद्ध कितना प्रमाण उपस्थित है, इस बात को दर्शाता है। यह बताता है कि नल संकल्पना के सही होने पर दो तुलना किए गए समूहों के आंकड़ों का माध्य बड़ा होगा अथवा वास्तविक संभाव्यता के बराबर होगा। [1]

शोध के अनेक क्षेत्रों में सांख्यिकीय संकल्पना परीक्षण में संभाव्यता मान का उपयोग बहुत आम है। [2] जैसे कि भौतिकी, अर्थशास्त्र, वित्त, राजनीति विज्ञान, मनोविज्ञान आदि में। [3] इसी तरह जीवविज्ञान, अपराध न्याय, अपराधशास्त्र, तथा समाजशास्त्र में भी इसका उपयोग होता है। [4]

मूल संकल्पना[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

अधिक अध्ययन के लिए[संपादित करें]

संदर्भ[संपादित करें]

  1. Wasserstein, Ronald L.; Lazar, Nicole A. (7 March 2016). "The ASA's Statement on p-Values: Context, Process, and Purpose". The American Statistician. 70 (2): 129–133. डीओआइ:10.1080/00031305.2016.1154108.
  2. Bhattacharya, Bhaskar; Habtzghi, DeSale (2002). "Median of the p value under the alternative hypothesis". The American Statistician. 56 (3): 202–6. डीओआइ:10.1198/000313002146.
  3. Wetzels, R.; Matzke, D.; Lee, M. D.; Rouder, J. N.; Iverson, G. J.; Wagenmakers, E. -J. (2011). "Statistical Evidence in Experimental Psychology: An Empirical Comparison Using 855 t Tests". Perspectives on Psychological Science. 6 (3): 291–298. PMID 26168519. डीओआइ:10.1177/1745691611406923.
  4. Babbie, E. (2007). The practice of social research 11th ed. Thomson Wadsworth: Belmont, California.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

  • Free online पी-वैल्यु कलकुलेटर विभिन्न विशिष्ट परिक्षणों के लिए जैसे काय-स्केयर, फिसस-परिक्षण, आदि के लिए।
  • पी वैल्यु की समझ एक जावा ऐपलेट सहित जो पी-वैल्यु के आंकिक मान के गलत आंकड़ा बताने की व्याख्या करता है।