प्राचीन भारतीय शिलालेख

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
सम्राट अशोक का एक धर्मोपदेश जो ब्राह्मी लिपि में है। यह बिहार के लउरिया में स्थित है और लगभग २०० ईसापूर्व में निर्मित है।

भारतीय उपमहाद्वीप से प्राप्त सबसे प्राचीन पुरालेख सिन्धु घाटी की सभ्यता की खुदाई से प्राप्त हुए हैं जो अब तक पढ़े नहीं जा सके हैं। उनका समय तीसरी सहस्राब्दी ईसापूर्व है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]