प्रतीप त्रुटि

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
उल्टी जेनी, के १०० पत्रकों मे से सिर्फ एक ही ढूंढा जा सका है।

फिलेटली या डाक टिकट संग्रह में, एक प्रतीप त्रुटि तब होती है, जब किसी डाक टिकट का कोई भाग उल्टा मुद्रित हो जाता है। इस तरह के प्रतीपकों को डाक टिकट त्रुटियों में शायद सबसे शानदार माना जाता है, ना सिर्फ इसलिए कि यह देखने में अलग लगतीं है बल्कि यह लगभग हमेशा ही एक बहुत दुर्लभ घटना होती हैं और डाक टिकट संग्राहक इन्हें बेशकीमती मानते हैं।

सन्दर्भ[संपादित करें]