प्रतिरक्षण

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
पोलियो के विरुद्ध अभिरक्षा के लिए एक शिशु को पोलियो के दवा की कुछ बूँदें पिलायी जा रही हैं।

चिकित्सा विज्ञान के सन्दर्भ में प्रतिरक्षण (Immunization या immunisation) वह प्रक्रिया है जिसके द्वारा किसी व्यक्ति की प्रतिरक्षा प्रणाली को किसी रोगकारक ( immunogen) के विरुद्ध सशक्त बनाया जाता है।

प्रतिरक्षण का सिद्धान्त यह है कि जब किन्हीं वाह्य अणुओं को शरीर में प्रविष्ट कराया जाता है तो शरीर का प्रतिरक्षा प्रणाली इससे लड़ना शुरू कर देती है और इसे परास्त कर देती है। इतना ही नहीं, प्रतिरक्षा प्रणाली की स्मृति में यह बात अंकित हो जाती है जिससे भविष्य मे यद वही वाह्य अणु प्रविष्ट होते हुए पाए जाते हैं तो प्रतिरक्षा प्रणाली तेजी से उन पर विजय प्राप्त करती है। अर्थात किसी भी जन्तु को यदि नियन्त्रित रूप में किसी वाह्य रोगकारक से आक्रमित कराया जाय तो उस जन्तु का शरीर उस रोगकारक से भविष्य में कभी भी रक्षा करने की शक्ति प्राप्त कर लेता है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]