प्रणामसागर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

मुनि श्री 108 Pranamsagar जी महाराज एक Digambara भिक्षुहै।

जीवनी[संपादित करें]

मुनि Pranamsagar एक Digambara भिक्षु का दौरा किया जो गोवा में पहली बार के लिए 2015 के बाद के वर्षों के हजारों के के बाद से किसी भी Digambara भिक्षु राज्य का दौरा किया और प्राप्त की 150 नए अनुयायियों.[1][2] राज्य तो बन गया की जगह के लिए अपने Chaturmas वर्ष 2015 की है। [3]

सन्दर्भ[संपादित करें]