पैंडोरा (चंद्रमा)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
पैंडोरा
Pandora PIA07632.jpg
पैंडोरा, जैसा कैसिनी द्वारा प्रतिबिंबित हुआ
खोज
खोज कर्ता कोलिन्स, वॉयेजर 1
खोज की तिथि अक्टूबर, 1980
युग 31 दिसम्बर 2003 (जूलियन दिवस 2453005.5)
अर्ध मुख्य अक्ष 141,720 ± 10 किमी
विकेन्द्रता 0.0042
परिक्रमण काल 0.628504213 दिवस
झुकाव 0.050 ± 0.004° शनि की भूमध्य रेखा से
स्वामी ग्रह शनि
भौतिक विशेषताएँ
परिमाण 104×81×64 किमी [2]
माध्य त्रिज्या 40.7 ± 1.5 किमी [2]
आयतन ~280,000 किमी³
द्रव्यमान 1.371 ± 0.019 ×1017 किग्रा [2]
माध्य घनत्व 0.49 ± 0.06 ग्राम/सेमी³ [2]
विषुवतीय सतह गुरुत्वाकर्षण 0.0026–0.0060 मीटर/सेकंड² [2]
पलायन वेग ~0.019 किमी/सेकंड
घूर्णन तुल्यकालिक
अक्षीय नमन शून्य
अल्बेडो 0.6
तापमान ~78 केल्विन

पैंडोरा (Pandora) (/pænˈdɔərə/ pan-DOHR; यूनानी : Πανδώρα), शनि का एक आतंरिक उपग्रह है। इसकी खोज वॉयेजर 1 द्वारा ली गई तस्वीरों से 1980 में हुई थी, साथ ही तब अस्थायी तौर पर S/1980 S 26 से पदनामित हुआ था। [3] 1985 के उत्तरार्ध में यह आधिकारिक तौर पर ग्रीक पौराणिक पात्र पैंडोरा पर नामित हुआ था।[4] यह सेटर्न XVII तौर पर भी नामित है। [5]

पैंडोरा एफ रिंगEn का एक बाह्य सेफर्ड उपग्रहEn है। यह निकटवर्ती प्रोमेथियस की तुलना में अधिक भारी निर्मित हुआ है, तथा इसके पास 30 किलोमीटर (19 मील) व्यास के कम से कम दो बड़े खड्ड है। मलबे से भरे होने के कारण पैंडोरा पर अधिकांश खड्ड उथले हैं। इस उपग्रह के भूपृष्ठ पर मेड़ व नालियां भी मौजूद है। [6]

प्रोमेथियस के साथ चार 118:121 के माध्य गति अनुनादों की एक श्रृंखला के परिणामस्वरूप पैंडोरा की कक्षा अस्तव्यस्त प्रतीत होती है। [7] उनकी कक्षाओं में सबसे बड़ा परिवर्तन तकरीबन हर 6.2 वर्षों में पाया जाता है, जब पैंडोरा का उपशनिच्चर प्रोमेथियस के अपशनिच्चर के सीध में होता है और दोनों की आपसी पहुँच 1,400-किलोमीटर (870 मील) के भीतर होती है। पैंडोरा का माइमस के साथ भी एक 3:2 का माध्य गति अनुनाद है। [1]

इसके अति निम्न घनत्व और अपेक्षाकृत उच्च धबलता से लगता है कि पैंडोरा एक अति छिद्रित पिंड है। इन मायनों में अनिश्चितता बहुत ज्यादा है, तथापि, इनकी पुष्टि होना बाकी है।

गैलरी[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]