पृथक्कारी प्रवर्धक

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
पृथक्कारी प्रवर्धक का प्रतीक
ट्रान्सफॉर्मर के माध्यम से पृथक्करण प्रदान करने वाले पृथक्कारी प्रवर्धक का सिद्धान्त
प्रकाशिक कपुलिंग के द्वारा पृथक्करण प्रदान करने वाले पृथक्कारी प्रवर्धक का सिद्धान्त

पृथक्कारी प्रवर्धक (Isolation amplifiers) वे प्रवर्धक हैं जिनके इन्पुट और आउटपुट के बीच उच्च प्रतिरोध (या प्रतिबाधा) होती है तथा इनपुट और आउटपुट के बीच हजारों वोल्ट (एसी या डीसी) होने के वावजूद ये अपना काम करते हैं। दूसरे शब्दों में, इनके इन्पुट और आउटपुट के बीच कोई सीधा विद्युत चालक मार्ग नहीं होता।

पृथक्कारी प्रवर्धक डिजाइन करने के लिये तीन विधियाँ प्रयोग में लायीं जातीं हैं-

  • (१) ट्रान्सफॉर्मर द्वारा पृथक्करण
  • (२) संधारित्र द्वारा पृथक्करण
  • (३) प्रकाश द्वारा पृथक्करण

उपयोग[संपादित करें]

पृथक्कारी प्रवर्धक का उपयोग वहाँ लाभप्रद होता है जहाँ अधिक कॉमन-मोड सिगनल के ऊपर छोटा सा डिफरेंशियल सिग्नल मापना हो। इन्स्ट्रुमेन्टेशन प्रवर्धक की तरह पृथक्कारी प्रवर्धक भी एक बड़ी आवृत्ति रेंज में एक निश्चित डिफरेंशियल गेन प्रदान करते हैं। इनका भी इनपुट इम्पीडेंस अधिक होता है तथा आउटपुट इम्पीडेंस कम होता है।

कुछ प्रमुख पृथक्कारी प्रवर्धक[संपादित करें]

कुछ प्रमुख पृथक्कारी प्रवर्धक
नाम निर्माता पृथक्करण की विधि पृथक पॉवर सप्लाई आवृत्ति रेंज पृथक्करण-
वोल्टेज
टिप्पणी
AD202 Analog Devices प्रेरण द्वारा आन्तरिक 0…2 kHz 2000 V
AD210 Analog Devices प्रेरण द्वारा आन्तरिक 0…20 kHz 2500 VRMS
AD215 Analog Devices प्रेरण द्वारा आन्तरिक 0…120 kHz 1500 VRMS
ISO100 Texas Instruments, Burr-Brown प्रकाशीय वाह्य 0…5/60 kHz 750 V
ISO103 Texas Instruments, Burr-Brown संधारित्रीय कपुलिंग आन्तरिक 0…20 kHz 1500 VRMS
ISO113 Texas Instruments, Burr-Brown संधारित्रीय कपुलिंग आन्तरिक 0…20 kHz 1500 VRMS
ISO121 Texas Instruments, Burr-Brown संधारित्रीय कपुलिंग वाह्य 0…60 kHz 3500 V~
ISO122 Texas Instruments, Burr-Brown संधारित्रीय कपुलिंग वाह्य 0…50 kHz 1500 V~
HCPL-7840 Avago Technologies आप्टोकपुलर वाह्य 0…100 kHz 2500 V~
HCPL-788J Avago Technologies ऑप्टोकपुलर (डिजिटल) वाह्य 0…30 kHz 600 VRMS

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]