पुष्कर झील

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
स्थान पुष्कर, अजमेर ,राजस्थान
निर्देशांक 26°29′14″N 74°33′15″E / 26.48722°N 74.55417°E / 26.48722; 74.55417निर्देशांक: 26°29′14″N 74°33′15″E / 26.48722°N 74.55417°E / 26.48722; 74.55417
मुख्य अंतर्वाह लूणी नदी
मुख्य बहिर्वाह लूणी नदी
जलसम्भर क्षेत्र 22 कि॰मी2 (240,000,000 वर्ग फुट)
अपवहन द्रोणी देश भारत
सतह क्षेत्र 22 कि॰मी2 (240,000,000 वर्ग फुट)
औसत गहराई 8 मी॰ (26 फीट)
अधिकतम गहराई 10 मी॰ (33 फीट)
जल क्षमता 790,000 घन मीटर (28,000,000 घन फुट)
सतह की ऊँचाई 530 मी॰ (1,740 फीट)
तटीय बसेरे पुष्कर

पुष्कर झील या पुष्कर सरोवर (संस्कृत: पुष्कर-सरोवर) जो कि राजस्थान राज्य के अजमेर ज़िले के पुष्कर कस्बे में स्थित एक पवित्र हिन्दुओं की झील है। इस प्रकार हिन्दुओं के अनुसार यह एक तीर्थ है। पौराणिक दृष्टिकोण से इस झील का निर्माण भगवान ब्रह्मा जी ने करवाया था इस कारण झील के निकट ब्रह्मा जी का मन्दिर भी बनाया गया है।

पुष्कर झील में कार्तिक पूर्णिमा (अक्टूबर -नवम्बर) माह में पुष्कर मेला भरता है जहां पर हज़ारों की तादाद में तीर्थयात्री आते है तथा स्नान करते है। ऐसा माना जाता है कि यहां स्नान करने पर त्वचा के सारे रोग दूर हो जाते है और त्वचा साफ सुथरी हो जाती है।

झील के आसपास लगभग ५०० हिन्दू मन्दिर स्थित है। झील राजस्थान के अजमेर नगर से 11 किमी उत्तर में स्थित है। पौराणिक मान्यता के अनुसार पुष्कर झील का निर्माण भगवान ब्रह्मा ने करवाया था। इसमें बावन स्नान घाट हैं। इन घाटों में वराह, ब्रह्म व गव घाट महत्त्वपूर्ण हैं। प्राचीनकाल से लोग यहाँ पर प्रतिवर्ष कार्तिक मास में एकत्रित हो भगवान ब्रह्मा की पूजा उपासना करते हैं। पुष्कर में आने वाले लोग अपने को पवित्र करने के लिए पुष्कर झील में स्नान करते हैं।

भूगोल[संपादित करें]

पहाड़ी से लिया गया पुष्कर शहर तथा झील का चित्र

पुष्कर झील जो कि राजस्थान के अजमेर ज़िले के पुष्कर कस्बे में स्थित है पवित्र झील है , यह अरावली पर्वतमाला की श्रेणी में आती है जो (नाग पर्वत) के नाम से जानी जाती है। [1][2][2][3]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Pushkar Lake". Eco India. अभिगमन तिथि 2010-01-23.
  2. City Development Plan for Ajmer and Pushkar p. 196
  3. M.S.Reddy and N.V.V.Char. "Management of Lakes in India" (pdf). Annex 2 Classification of Lakes in India. World Lakes Org. पृ॰ 20.