पारस्परण (जीवविज्ञान)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
एक फूल से मधुरस पीता हुआ पतंगा जो एक-फूल से दूसरे फूल तक पराग ले जाता है। परागण पारस्परण का एक उदाहरण है।

जीवविज्ञान में पारस्परण (mutualism) या अंतर्जातीय सहयोग (interspecific cooperation) दो भिन्न जातियों के जीवों के बीच का ऐसा सम्बन्ध होता है जिसमें दोनों जीव एक-दूसरे की क्रियायों से लाभ पाते हैं।[1] उदाहरण के लिए कई प्राणियों के जठरांत्र क्षेत्र मे विशेष प्रकार के बैक्टीरिया का निवास होता है। यह बक्टीरिया प्राणी द्वारा खाये गये भोजन के पाचन में सहायक होते हैं और स्वयं इस भोजन से इनका पोषण होता है।[2]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Thompson, J. N. 2005 The geographic mosaic of coevolution. Chicago, IL: University of Chicago Press.
  2. "Host-Bacterial Mutualism in the Human Intestine," Fredrik Bäckhed, Ruth E. Ley, Justin L. Sonnenburg, Daniel A. Peterson, Jeffrey I. Gordon; Science 25 Mar 2005, Vol. 307, Issue 5717, pp. 1915-1920, DOI: 10.1126/science.1104816