संघीय प्रशासित कबायली क्षेत्र

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
पाकिस्तान का नक़्शा, क़बायली इलाका लाल रंग में दर्शाया हैं

संघीय शासित कबायली इलाका (फाटा) पाकिस्तान का अर्द्ध स्वायत्त प्राप्त कबायली क्षेत्र था। यह 1947 से 2018 तक अस्तित्व में रहा।[1] इसका विलय ख़ैबर पख़्तूनख़्वा में कर दिया गया। इस क्षेत्र में लगभग सभी पठान हैं, जो खैबर पख्तुनख्वा और उत्तरी बलूचिस्तान के पड़ोसी प्रांतों में भी रहते हैं और सीमा पार अफगानिस्तान में फैले हुए हैं। वे ज्यादातर मुसलमान हैं। 2001 में संयुक्त राज्य अमेरिका में 9/11 के हमलों के बाद, जनजातीय क्षेत्र उग्रवाद और आतंकवाद का एक प्रमुख इलाका रहा है। 2001 से पाकिस्तान सेना ने तालिबान के खिलाफ 10 अभियान शुरू किए, जिसमें उत्तर वजीरिस्तान में ऑपरेशन ज़र्ब-ए-अज़्ब शामिल है।[2]

क़बायली इलाका में ये 7 एजेंसियाँ-ं/ज़िले शामिल थे:

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "पाकिस्तान में खैबर-पख्तुनख्वा से अशांत कबायली क्षेत्र के विलय को संसद से मंजूरी - Amarujala". अमर उजाला. 26 मई 2018. अभिगमन तिथि 16 अगस्त 2018.
  2. "पाक सेना के 'जर्ब-ए-अज्ब' अभियान में 2763 आतंकी ढेर". जनसत्ता. 14 जून 2015. अभिगमन तिथि 16 अगस्त 2018.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]