पवित्र भाग्य

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
पवित्र भाग्य
शैलीनाटक
प्रेमकाहानी
निर्माताएकता कपूर
विकासकर्ताबालाजी टेलीफिल्म्स
पटकथा byशिल्पा डी'मेल्लो
कथाकारगौतम हेगड़े
प्रक्रिति मुखर्जी
स्नेहा देसाई
निर्देशकअनिरुद्धा राजदेरकर
रचनात्मक निर्देशकपालकी मल्होत्रा
अभिनीतअनेरी वाजानी
कुणाल जयसिंह
वैष्णवी प्रजापति
उद्गम देशभारत
मूल भाषा(एं)हिन्दी
सीजन कि संख्या
एपिसोड कि संख्या१५
उत्पादन
निर्माताएकता कपूर
शोभा कपूर
उत्पादन स्थानमुंबई, महाराष्ट्र, भारत
संपादकविकास शर्मा
विशाल शर्मा
संदीप भट्ट
कैमरा सेटअपमल्टी कैमरा
प्रसारण अवधि२२ मिनट
निर्माता कंपनीबालाजी टेलीफिल्म्स
प्रदर्शित प्रसारण
नेटवर्ककलर्स
प्रकाशित२ मार्च २०२० –
वर्तमान

पवित्र भाग्य एक भारतीय पारिवारिक प्रेमकहानि धारावाहिक है जिसकी सर्जक एकता कपूर है। ये धारावाहिक ३ मार्च २०२० से सोम-शुक्र रात १०:०० बजे भारतीय टीवी चैनल कलर्स पर प्रसारण होता है। इस धारावाहिक का निर्माण एकता कपूर और शोभा कपूर ने अपनी कंपनी बालाजी टेलीफिल्म्स के द्वारा किया है।[1] टीवी कलाकार अनेरी वाज़ानी और कुणाल जयसिंह इस धारावाहिक के मुख्य पात्रो की भूमिका निभा रहे है।[2]

कहानी[संपादित करें]

यह धारावाहिक प्रणति मिश्रा और रेयांश खुराना के इर्द-गिर्द घूमती है जो कॉलेज में मिलते हैं और दोस्त बन जाते हैं। थोड़ा वक्त गुजरते दोनों में प्यार हो जाता है। प्यार के कारण दोनों एक दूसरे के बेहद करीब आ जाते के जिसके परिणाम स्वरुप प्रणति गर्भवती हो जाती है। जब प्रणति ने रेयांश को उसकी गर्भावस्था की जानकारी दी, तो वह चकरा गया। इतनी कम उम्र में पिता बनने के लिए रियांश तैयार था जिसके कारण वह प्रणति को छोड़ देता है जो एक बच्ची को जन्म देती है। प्रणति की मां शोभना उसकी बच्ची के जन्म होते ही उसे अनाथालय में दे देती है और प्रणति को बताती है कि उसका गर्भपात हो गया है। अनाथालय द्वारा बच्चे का नाम जुगनू रखा गया है। कहानी आगे बढ़ती है जब रियांश और प्रणति को जुगनू के बारे में पता लगता है।

कलाकार एवं पात्र[संपादित करें]

  • अनेरी वजानी - प्रणति मिश्रा
  • कुणाल जयसिंह - रेयांश खुराना
  • वैष्णवी प्रजापति - जुगनू खुराना

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "कुमकुम भाग्य और कुंडली भाग्य के बाद एकता कपूर अब ला रही है नया धारावहिक पवित्र भाग्य". मूल से 29 फ़रवरी 2020 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 20 अप्रैल 2020.
  2. "बालाजी टेलीफिल्म्स के पवित्र भाग्य में काम करना बड़े सम्मान की बात है: कुणाल जयसिंह".[मृत कड़ियाँ]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]