पर्जन्य

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

पर्जन्य तीसरे आदित्य हैं- ये मेघों में निवास करते हैं। इनका मेघों पर नियंत्रण हैं। वर्षा के होने तथा किरणों के प्रभाव से मेघों का जल बरसता है। ये धरती के ताप को शांत करते हैं और फिर से जीवन का संचार करते हैं। इनके बगैर धरती पर जीवन संभव नहीं।