परिचय (1972 फ़िल्म)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
परिचय
चित्र:परिचय.jpg
परिचय का पोस्टर
निर्देशक गुलज़ार
निर्माता वी के सोबती
लेखक गुलज़ार
पटकथा गुलज़ार
अभिनेता जितेन्द्र,
जया भादुरी,
प्राण,
सुचित्रा सेन,
संजीव कुमार,
असरानी,
ए के हंगल
संगीतकार राहुल देव बर्मन
गुलज़ार (गीत)
छायाकार के वैकुण्ठ
प्रदर्शन तिथि(याँ) 8 अक्टूबर 1972
देश भारत
भाषा हिन्दी

परिचय 1972 में गुलज़ार द्वारा निर्मित एक पारिवारिक कथा आधारित हिन्दी फिल्म है। यह प्रमुख अंग्रेज़ी फ़िल्म दि साऊँड ऑफ़ म्युज़िक से प्रेरित पर यथार्थ चित्रण नहीं है।

संक्षेप[संपादित करें]

रवि (जितेन्द्र) को राय साहब (प्राण) के पोते-पोतियों को पढ़ाने उनके घर भेजा जाता है जिनमे रमा (जया भादुरी) सबसे बड़ी है। रमा के पिता नीलेश (संजीव कुमार) के मरने के बाद इन्हें अपने दादा राय साहब के साथ रहने लाया जाता है। रमा की माँ सती देवी (वीणा) के मरने के कुछ समय बाद ही नीलेश की मृत्यु होती है। इन बच्चों ने अपने नटखटपन से अब तक कई मास्टरों को भगाया है जिसके लिए उन्हें अपनी बुआ (सुचित्रा सेन) से कठिन दंड मिलता रहा है। रवि अपने सहनात्मक व्यवहार से उनका मन और रमा का प्यार जीतता है और अन्त में रवि और रमा का विवाह होता है।

चरित्र[संपादित करें]

मुख्य कलाकार[संपादित करें]

दल[संपादित करें]

संगीत[संपादित करें]

  • गीत "मुसाफ़िर हूँ यारो" बिनाका गीत माला की 1973 वार्षिक सूची पर 25वीं पायदान पर रही।

गीतकार गुलज़ार, aभी गानों के संगीतकार राहुल देव बर्मन हैं।

गाने
क्र. शीर्षक गायन अवधि
1. "बीती न बिताई रैना"   लता मंगेशकर, भूपिंदर सिंह 3:14
2. "मितवा बोले मीठे बोल"   भूपिंदर सिंह 3:19
3. "मुसाफ़िर हूं यारो"   किशोर कुमार 3:12
4. "सा रे के सा रे"   किशोर कुमार, आशा भोंसले 4:42

रोचक तथ्य[संपादित करें]

परिणाम[संपादित करें]

बौक्स ऑफिस[संपादित करें]

समीक्षाएँ[संपादित करें]

नामांकन और पुरस्कार[संपादित करें]

वर्ष नामित कार्य पुरस्कार परिणाम
1973 लता मंगेशकर ("बीती न बिताई रैना" गाने के लिए) राष्ट्रीय फ़िल्म सर्वश्रेष्ट पार्श्वगायिका पुरस्कार जीत

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]