पराबैंगनी खगोलिकी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
स्पारल गैलेक्सी मेसियर ८१ का GALEX द्वारा पराबैंगनी प्रकाश की सहायता से लिया गया फोटो

पराबैंगनी विकिरण का उपयोग करते हुए खगोलीय पिण्डों का अध्ययन करना पराबैंगनी खगोलिकी (Ultraviolet astronomy) कहलाता है। लगभग १० नैनोमीटर से लेकर ३२० नैनोमीटर तरंगदैर्घ्य वाली विद्युतचुम्बकीय विकिरण पराबैंगनी विकिरण कहलाता है।

पराबैंगनी अन्तरिक्ष दूरदर्शी[संपादित करें]

Astro 2 UIT captures M101 with ultraviolet shown in purple

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "R. Staubert, H. Brunner,1 H.-C. Kreysing - The German ROSAT XUV Data Center and a ROSAT XUV Pointed Phase Source Catalogue (1996)". मूल से 20 जनवरी 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 28 सितंबर 2015.
  2. "Public Telescope Project". मूल से 28 सितंबर 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 28 सितंबर 2015.
  3. The first public space telescope Archived 24 सितंबर 2015 at the वेबैक मशीन. Popular Astronomy UK
  4. Ein privates Weltraumteleskope für Amateure und Profis Archived 29 सितंबर 2015 at the वेबैक मशीन. Spektrum DE