परमाणु खनिज अन्वेषण एवं अनुसंधान निदेशालय

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

परमाणु खनिज अन्वेषण एवं अनुसंधान निदेशालय (एएमडीईआर) भारत का एक प्रमुख अनुसंधान संस्थान है जो परमाणु खनिजों व विरल मृदा तत्वों के बारे में अनुसंधानरत है। यह हैदराबाद में स्थित है।[1]

परमाणु खनिज अन्वेषण एवं अनुसंधान निदेशालय का मुख्य अधिदेश है, - भारत के परमाणु ऊर्जा कार्यक्रम के सफल क्रियान्वयन के लिए आवश्यक यूरेनियम संसाधनों की पहचान एवं मूल्यांकन करना। इस महत्वपूर्ण कार्य के क्रियान्वयन के लिए नई दिल्ली, बंगलुरु, जमशेदपुर, शिलांग, जयपुर, नागपुर और हैदराबाद (पखनि मुख्यालय और दक्षिण मध्य क्षेत्र) के क्षेत्रीय एवं अनुसंधान केन्द्रों द्वारा संपूर्ण देश में विभिन्न स्थानों पर अन्वेषण किया जा रहा है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "विरल मृदा भंड़ार". पत्र सूचना कार्यालय, भारत सरकार. 23 नवम्बर 2011. अभिगमन तिथि 24 जुलाई 2014.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]