परतंत्र और स्वतंत्र चर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
गणित में किसी फलन के चित्रण में अक्सर पड़ी रेखा पर स्वतंत्र चर (यहाँ पर द्वारा अंकित) और खड़ी रेखा पर परतंत्र चर (यहाँ पर द्वारा अंकित) दर्शाये जाते हैं। यहाँ एक वर्ग फलन (quadratic function) दर्शाया गया है।

गणित में स्वतंत्र चर (independent variable) ऐसी राशि होती है जिसका मान (value) किसी अन्य राशि पर निर्भर न हो। इसके विपरीत परतंत्र चर (dependent variable) ऐसी राशि होती है जिसका मान एक या एक से अधिक स्वतंत्र चरों पर निर्भर हो। उदाहरण के लिए यदि किसी खेत में डाली गई खाद की मात्रा को के चिन्ह द्वारा प्रकट करा जाए और उस खेत में पैदा होने वाले गेंहू को द्वारा, तो फ़सल की मात्रा खेत में डाली गई खाद की मात्रा का एक फलन (फ़न्क्शन) होगी, जिसे गणितीय रूप से = () लिखा जा सकता है। इसमें स्वतंत्र चर है जबकि परतंत्र चर है।[1][2]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Hastings, Nancy Baxter. Workshop calculus: guided exploration with review. Vol. 2. Springer Science & Business Media, 1998
  2. Carlson, Robert. A concrete introduction to real analysis. CRC Press, 2006. p.183