पन्हाला दुर्ग

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
पन्हाला दुर्ग
पन्हाला ,महाराष्ट्र ,भारत
Teen darwaza panhala.jpg
तीन दरवाज़ा का आंतरिक प्रवेशद्वार
पन्हाला दुर्ग की महाराष्ट्र के मानचित्र पर अवस्थिति
पन्हाला दुर्ग
पन्हाला दुर्ग
निर्देशांक16°48′32″N 74°06′33″E / 16.80889°N 74.10917°E / 16.80889; 74.10917
प्रकारपहाड़ी दुर्ग
ऊँचाई845 मी॰ (2,772 फीट) ASL
निर्माण जानकारी
स्वामित्वभारत सरकार
नियंत्रकभोज द्वितीय ,बीजापुर सल्तनत , मराठा ,मुग़ल ,ईस्ट इण्डिया कम्पनी
जनता हेतु
खुला
हां
इतिहास
निर्मित११७८से १४८९
निर्माणकर्ताभोज द्वितीय ,आदिल शाह
प्रयोगाधीन११७८–१९४७
सामग्रीपत्थर ,लीड
युद्ध/लड़ाइयाँपवन खिण्ड वंश
गैरिसन जानकारी
पूर्व
कमांडर
Bhoja II, Ibrahim Adil Shah I, Shivaji, Aurangzeb, Tarabai
वर्तमान निवासीसम्भाजी ,रामचन्द्र पंत अमात्य

पन्हाला दुर्ग जो कि इन नामों से (पन्हालगढ़ ,पनाला ,पहाला) भी जाना जाता है। जो भारतीय राज्य महाराष्ट्र के कोल्हापुर ज़िले से दक्षिण पूर्व से २० किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

पन्हाला दुर्ग में मयूर

पन्हाला दुर्ग का निर्माण ११७८ में किया था इनके साथ १५ और दुर्गों का निर्माण भी किया था। .[1]

पन्हाला दुर्ग में बाजी प्रभु देशपांडे की मूर्ति
पन्हाला दुर्ग में शिवा काशिद की मूर्ति

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Gazetteer of the Bombay Presidency. Bombay, India: Govt Central Press. 1866. पपृ॰ 314–315. अभिगमन तिथि २४ दिसम्बर २०१५.