पद्मभूषण डॉ॰ मोटूरि सत्यनारायण पुरस्कार

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

पद्मभूषण डॉ॰ मोटूरि सत्यानारायण पुरस्कार एक साहित्यिक पुरस्कार है जो भारत के मानव संसाधन विकास मंत्रालय के अंतर्गत केन्द्रीय हिन्दी संस्थान द्वारा किसी ऐसे भारतीय मूल के विद्वान को दिया जाता है जिसने विदेश में हिन्दी भाषा या साहित्य के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य किया हो। इस पुरस्कार का प्रारंभ तमिलनाडु के हिंदी सेवी एवं विद्वान मोटूरि सत्यनारायण के नाम पर १९८९ में हुआ था। पहला पद्मभूषण डॉ॰ मोटूरि सत्यनारायण पुरस्कार वर्ष २००२ में कनाडा के हरिशंकर आदेश को दिया गया था। इस पुरस्कार में एक लाख रुपये नकद, एक स्मृतिचिह्न, प्रशस्ति पत्र और शाल शामिल हैं। यह पुरस्कार भारत के राष्ट्रपति द्वारा स्वयं प्रदान किया जाता है।

सम्मानित विद्वान[संपादित करें]

वर्ष नाम देश
२००२ हरिशंकर 'आदेश'[1] कनाडा
२००३ पी. जयरामन[2] अमरीका
२००४ यमुना काचरू[2] अमरीका
२००५ कृष्ण किशोर[2] अमरीका
२००६ प्रेमलता वर्मा[2] अर्जेंटीना
२००७ उषा प्रियंवदा[2] अमरीका
२००८ पूर्णिमा वर्मन[2] संयुक्त अरब अमीरात
२००९ सुरेन्द्र गंभीर[2] अमरीका
२०१० मदनलाल मधु[2] रूस
२०११ तेजेन्द्र शर्मा[2] संयुक्त राजशाही
२०१२ सुषम बेदी अमरीका

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Sameena. [पद्मभूषण डॉ॰ मोटूरि सत्यनारायण पुरस्कार "पद्मभूषण डॉ॰ मोटूरि सत्यनारायण पुरस्कार"]. Hindisansthan.org. पद्मभूषण डॉ॰ मोटूरि सत्यनारायण पुरस्कार. अभिगमन तिथि: 2011-12-09. 
  2. Khsdilt. "हिंदी सेवी सम्मान पुरस्कार". Hindisansthan.org. http://khsindia.org/index.php?option=com_content&view=article&id=91:पद्मभूषण-डॉ-मोटूरि-सत्यनारायण-पुरस्कार&catid=22:पुरस्कार&Itemid=690&lang=hi. अभिगमन तिथि: 2011-12-09. 

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]