मोहनलाल मोहित

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

पं.मोहनलाल मोहित आर्य रत्न हिन्दी लेखक, हिन्दी प्रचारक, हिन्दी वक्ता और हिन्दी संपादक रहे हैं। उन्होंने १०० वर्ष से अधिक की आयु प्राप्त की। उनके द्वारा की गई हिन्दी सेवाओं को स्मरण कर के लोग उनसे प्रेरणा लेते हैं। उन्होंने आर्य समाज के प्रचार प्रसार के लिए हिन्दी का सदुपयोग किया।[1]


सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. पांडेय, राकेश (जनवरी अक्टूबर-दिसम्बर २००५). मारीशस में हिन्दी एक सिंहावलोकन. गीता कालोनी, नई दिल्ली: प्रवासी संसार. पृ॰ १३-१९. |year= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद); |access-date= दिए जाने पर |url= भी दिया होना चाहिए (मदद)