न्यायालय की अवमानना

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

किसी न्यायालय या न्यायधीश द्वारा दिये गये निर्णय की अवहेलना करना या निरादर करना न्यायालय की अवमानना (Contempt of court) कहलाता है। यह एक अपराध है। यह दो तरह का होता है-

  • (१) किसी न्यायधीश का निरादर करना, न्यायालय में उपद्रव (अशांति) फैलाना (विशेष रूप से, न्यायधीध के चेतावनी देने के बावजूद)
  • (२) किसी न्यायालय के आदेश का जानबूझकर पालन न करना।

CONTEMPT OF COURT[संपादित करें]

Bhartiya samvidhan ke art-129 me Supreme Court and art-215 me high courts ki contempt of court ke sambandh me shaktiyo ka praavdhaan kiya gya haiन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]