नैतिक दुविधा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

नैतिक दुविधा या नीतिशास्त्रीय दुविधा (Ethical dilemma) उस जटिल परिस्थिति को कहते हैं जिसमें दो या अधिक में से एक को चुनना होता है किन्तु किसी एक को चुनने पर किसी अन्य सुनीति का उल्लंघन हो जाता है।

उदाहरण-
एक मित्र आपको, आपके होमवर्क को नकल करने के लिए कहता है। तब आपको यह जरूर चुनना होगा कि आप यह बात अपने शिक्षक से बताएं या नहीं। जब भी आप कोई निर्णय लेंगे, आपकी कार्रवाई किसी और पर प्रभाव डालेगा। आप यहां नीतिशास्त्रीय दुविधा का सामना करते हैं। निर्णय, नीतिशास्त्रीय है क्योंकि आपको यह जरूर निर्धारित करना है कि आपका दायित्व क्या है (विशेषकर तब जब अन्य व्यक्ति इसमें शरीक है), और यह दुविधा है क्योंकि आपको एक से अधिक विकल्पों में से चुनना है। आपके द्वारा लिया गया निर्णय नीतिशास्त्रीय होगा यदि आप सही चीज को करने का विकल्प चुनते हैं।