निसर्गदत्त महराज

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ

निसर्गदत्त महाराज (अप्रैल १७, १८९७- सितम्बर ८, १९८१) शैव अद्वैत धारा से सम्बंधित इंचगिरी संप्रदाय (नवनाथ एवं लिंगायत परम्परा) के एक भारतीय गुरु थे. उनके प्रवचनों पर आधारित पुस्तक आई ऍम दैट (I Am That ) से भारत से बाहर विशेषतया पश्चिमी देशों में लोगों को उनके बारे में पता चला.


ज्ञान प्राप्ति[संपादित करें]

उपदेश==