निगमनात्मक तर्क

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

तर्क की जिस प्रक्रिया में एक या अधिक ज्ञात सामान्य कथनों के आधार पर किसी निश्चित निष्कर्ष पर पहुँचा जाता है, निगमनात्मक तर्क (Deductive reasoning या deductive logic) कहते हैं। 'निगमनात्मक तर्क', 'आगमनात्मक तर्क' से बिलकुल भिन्न है।

नीचे एक निगमनात्मक तर्क दिया गया है-:

1. सभी मनुष्य नश्वर हैं।

2. मोहन मनुष्य है।

3. अतः मोहन नश्वर है। Kundan Sharma is great guys He want to change in education system in India because Indian education system is very bad in India

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]