निकारागुआ झील

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
निकारागुआ झील
Lago de Nicaragua (स्पेनी)
निकारागुआ झील Lago de Nicaragua (स्पेनी) -
स्थान रिवास विभाग, निकारागुआ
निर्देशांक 11°37′N 85°21′W / 11.617°N 85.350°W / 11.617; -85.350निर्देशांक: 11°37′N 85°21′W / 11.617°N 85.350°W / 11.617; -85.350
मुख्य बहिर्वाह सैन जुआन नदी
जलसम्भर क्षेत्र 41,600 कि॰मी2 (16,062 वर्ग मील)[1]
अपवहन द्रोणी देश निकारागुआ
अधिकतम लम्बाई 161 कि॰मी॰ (100 मील)
अधिकतम चौड़ाई 71 कि॰मी॰ (44 मील)
सतह क्षेत्र 8,264 कि॰मी2 (3,191 वर्ग मील)
अधिकतम गहराई 26 मी॰ (85 फीट)
जल क्षमता 108 कि॰मी3 (26 घन मील)
सतह की ऊँचाई 32.7 मी॰ (107 फीट)
द्वीप 400+ (ग्रेनेडा के टापू, ओमेटेप, सोलेंटिनम टापू, और जैपराटा सहित)
तटीय बसेरे अल्ताग्रेसिया, ग्रेनेडा, मोयोगाल्पा, सैन कार्लोस, सैन जोर्ग

निकारागुआ या कोकिबोलका या ग्रेनेडा झील (स्पेनी: Lago de Nicaragua) निकारागुआ में मीठे जल की एक झील है। विवर्तनिक उत्पत्ति और 8,264 कि॰मी2 (8.895×1010 वर्ग फुट) के क्षेत्र के साथ, यह मध्य अमेरिका की सबसे बड़ी झील,[2] दुनिया की १९वीं सबसे बड़ी झील (क्षेत्रफल के हिसाब से) और अमेरिका की दसवीं सबसे बड़ी झील है, टिटिकाका झील से यह थोड़ी ही छोटी है। समुद्र तल से 32.7 मीटर (107 फीट) की ऊंचाई के साथ, झील 26 मीटर (85 फीट) की गहराई तक जाती है। यह तिपिटपा नदी से मानागुआ झील के बीच से जुड़ा हुआ है।

झील सैन जुआन नदी के माध्यम से कॅरीबियाई सागर तक जाती है, ऐतिहासिक रूप से झील के किनारे ग्रेनाडा एक अटलांटिक बंदरगाह शहर बसा हुआ है, हालांकि ग्रेनाडा (साथ ही पूरी झील) भौगोलिक रूप से प्रशान्त महासागर के करीब है। प्रशांत को ओमेतेपे (झील में एक द्वीप) के पहाड़ों से देखा जा सकता है। झील में कैरिबियन समुद्री डाकूओं का इतिहास रहा है जिन्होंने तीन अवसरों पर ग्रेनेडा पर हमला किया था।[3]

निकारागुआ नहर[संपादित करें]

पनामा नहर के निर्माण से पहले, कॉर्नेलियस वेंडरबिल्ट की गौण ट्रांजिट कंपनी की के स्वामित्व में स्टेगकोच लाइन के द्वारा, संकीर्ण संयोग के माध्यम से रिवास भूमि की निचली पहाड़ियों से होते हुए प्रशांत को झील से जोड़ती थी। इस मार्ग का लाभ उठाने के लिये एक इंटरकॉनिक नहर, निकारागुआ नहर योजना बनाई गई, लेकिन इसके बजाय पनामा नहर का निर्माण किया गया। पनामा नहर के साथ प्रतिस्पर्धा को कम करने के लिए, अमेरिका ने 1916 की ब्रायन-चमोरो संधि में इस मार्ग के साथ इस नहर के सभी अधिकार सुरक्षित कर लिए। हालाँकि, 1970 में संयुक्त राज्य अमेरिका और निकारागुआ द्वारा इस संधि को पारस्परिक रूप से रद्द कर दिया गया था, निकारागुआ में एक और नहर का विचार अभी भी समय-समय पर पुनर्जीवित होता है, जैसे कि इकोनाकल प्रस्ताव। 2014 में, निकारागुआ की सरकार ने $40 बिलियन की लागत से निकारागुआ में नहर बनाने के लिए हांगकांग निकारागुआ नहर विकास निवेश कंपनी (HKND) को 50 साल की रियायत की पेशकश की, जिसके निर्माण की शुरुआत दिसंबर 2014 में हुई और 2019 में पूरी हुई। नहर के पारिस्थितिक और सामाजिक प्रभावों को लेकर विरोध प्रदर्शन, साथ-साथ वित्तपोषण के बारे में सवालों के विरोध में परियोजना के बारे में संदेह पैदा हो गया है।[4]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Salvador Montenegro-Guillén (2003). "Lake Cocibolca/Nicaragua". Lake Basin Management Initiative: Experience and Lessons Learned Brief. LBMI Regional Workshop for Europe, Central Asia and the Americas. Saint Michael's College, Colchester, Vermont. pp. 1–29. http://www.worldlakes.org/uploads/cocibolca_30sep04.pdf. अभिगमन तिथि: 2014-01-01. 
  2. "Cocibolca (Nicaragua)". LakeNet. अभिगमन तिथि 2009-01-14.
  3. "History of Granada: The oldest city in Central America". Granada Nicaragua. अभिगमन तिथि 2009-01-14.
  4. W. Alejandro Sanchez, "Protests against Nicaragua’s ambitious canal", voxxi.com, Oct 26, 2014.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]