नाहूम

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

नाहूम (Nahum ; हिब्रू : נַחוּם Naḥūm‎) एक लघु नबी थे जिनकी भविष्यवाणियाँ इब्रानी बाइबल (Hebrew Bible) में संगृहीत है।

नबी नाहूम ने एक काव्यग्रंथ की रचना की है जो बाइबिल में संगृहीत है। साहित्यिक दृष्टि से वह बाइबिल के सर्वोत्तम अंशों में से है। इस काव्य में सीरिया की राजधानी के भावी विध्वंस का वर्णन है और वह उस घटना (६१२ ई.पू.) के कुछ पहले ही लिखा गया था। असीरिया ने ७२२ ई.पू. में इसराइल का राज्य नष्ट कर दिया था। नाहूम देशप्रेमी है और उसके हृदय में विदेशी आततायियों के प्रति घृणा कूट कूटकर भरी हुई है। यही नाहूम की भावपूर्ण भाषा का कारण है। बहुत संभव है कि वर्तमान नाहूम ग्रंथ में कई अन्य कवियों की रचनाएँ भी संमिलित हों।