नासिर-उद-दौला - आसफ जाह चतुर्थ

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
Nasir-ud-dawlah,Asaf jah iv
हैदराबाद के निज़ाम
Nasir ud-Daula.jpg
हैदराबाद के निज़ाम
शासनावधि21 May 1829— 16 May 1857
पूर्ववर्तीमीर अकबर अली खान सिकंदर जाह, आसिफ़ जाह तृतीय
उत्तरवर्तीअफ़ज़ल-उद-दौला, अासफ जाह पंचम
जन्म25 April 1794
बीदर, हैदराबाद प्रांत, मुग़ल साम्राज्य
(now in कर्नाटक, भारत)
निधन16 May 1857 (aged 63)
समाधि
घरानाआसफ़ जाही राजवंश

मीर फ़रखुंदा अली खान नसीर-उद-दावला - आसिफ जाह IV का जन्म 25 अप्रैल 1794 को, बीदर में हुआ था। वह मीर अकबर अली खान सिकंदर जाह, आसिफ़ जाह तृतीय के सबसे बड़े बेटे थे। उन्होंने अपने पिता की मृत्यु के बाद उसी वर्ष 23 मई 1829 को राजपद संभाला।

उन्होंने 28 साल तक शासन किया। अन्य निज़ामों की तरह, उनका मकबरा मक्का मस्जिद में है। [1]

प्राकृतिक आपदाओं ने आसफ़ जाह चतुर्थ को भी नहीं छोड़ा; महामारी, बाढ़, चक्रवात और सूखे नियमित अंतराल पर शासन काल को प्रभावित करते रहे।[2]

उनके काल में वरंगल में एक नयी छावनी की स्थापना हुई। नए स्कूल, मस्जिद, मन्दिर, गिरजाघर, पुल और इसी प्रकार की निर्माणकारी गतिविधियों का नया केंद्र जल्द ही हैदराबाद के नए शहर के आसपास स्थापित हुआ।

यह भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "संग्रहीत प्रति". मूल से 25 सितंबर 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 31 अगस्त 2018.
  2. www.hyderabadplanet.com/mir-farkhunda-ali-khan-nasir-ud-daula-asaf-jah-nizam.html