नाभिकीय एवं विकिरण दुर्घटनाएँ

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

अन्तरराष्ट्रीय परमाणु उर्जा एजेंसी द्वारा नाभिकीय एवं विकिरण दुर्घटना की निम्नलिखित परिभाषा दी गयी है -

"ऐसी घटना जिसका लोगों के उपर या पर्यावरण के उपर उल्लेखनीय प्रभाव पड़ा हो। उदाहरण के लिये लोगों पर घातक प्रभाव; रिएक्टर की कोर पिघल गयी हो आदि। सन् १९८६ की चर्नोबिल परमाणु दुर्घटना एक ऐसी ही दुर्घटना थी।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]