धुस्वाँ साय्‌मि

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

धुस्वाँ साय्‌मि (ने॰ सं॰ १०५०-ने॰सं॰ ११२८) नेपाल के एक प्रसिद्ध लेखक है। उन्हे नेपालभाषा का "उपन्यास सम्राट" का उपाधि दिया हुआ है। उन्हौंने नेपालभाषा मै उपन्यास विधा का स्थापना किया था। वेह हिंदी मै भी लिखते थे। उन्हौंने वाराणासी से प्रकाशित होने वाला युगवाणी से हिंदी साहित्य मै यात्रा शुरु किया था। उनका हिंदी मै प्रकाशित उपन्यास 'मैं दासी मैं सराय' (सन् १९७४), 'रेत की दरार' (सन् १९७५) व 'जलजला' (सन् १९७६) है। 'कविता का जंगल' व 'शब्दों का आकाश' उनका प्रसिद्ध हिंदी कविता संग्रह है। साथ मै उनका लोकप्रिय नेपालभाषा का उपन्यास "गंकी" भी हिंदी मै अनुवादित है। लेखिका अमृता प्रितम ने उनको नायक बनाकर "अदालत" नामक एक उपन्यास भी लिखा है।