धार्मिक व्यामोह (पैरानोइया )

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

धार्मिक व्यामोह (religious paranoia), किसी बाहरी कारक के द्वारा या किसी धार्मिक संदर्भ के माध्यम से उद्देश्यपूर्ण तरीके से हमला होने का एक तर्कहीन भय है।

  1. किसी की आत्मा चोरी होने का डर
  2. राक्षसों द्वारा लुभाए जाने का dar
  3. किसी सम्प्रदाय की ख़ुद के ख़िलाफ़ साज़िश का डर
  4. ईश्वर या शैतान का डर

इसकी तुलना अतिवाद और असहिष्णुता से की गई है । [1] इसका राजनीतिक हिंसा में भी योगदान संभावित है। [2] [3] यह अक्सर विभाजन, मनोवैज्ञानिक प्रक्षेपण, वास्तविक या कथित उत्पीड़न की स्थितियों में पवित्रता की भावना को बनाए रखने की इच्छा, और कठोर और अप्राप्य व्यवहार से संबंधित है। [4]

यह भी देखें[संपादित करें]

संदर्भ[संपादित करें]

  1. Field F., J. (August 8, 1999). "China's Religious Paranoia". National Catholic Register. अभिगमन तिथि November 29, 2011.
  2. Presidential peril: Assassin Nation, The Globe and Mail, May 31, 2008
  3. Mustaffa, Ahmad; Manaf, Abdul (January 18, 2011). "Religious paranoia can wreak havoc if unchecked". The Star. मूल से January 19, 2011 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि November 29, 2011.
  4. The destructive power of religion: violence in Judaism, Christianity, and Islam, J. Harold Ellens, Greenwood Publishing Group, 2007 ISBN 0-275-99708-1, ISBN 978-0-275-99708-3