सूंजी बींग्फ़ा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
(द आर्ट ऑफ वार से अनुप्रेषित)
Jump to navigation Jump to search

सूंजी बींग्फ़ा (चीनी: 孫子兵法; हिन्दी: युद्ध की कला) चीन में युद्ध की कला के बारे में लिखी गई एक 13 अध्याय की एक किताब है। इस पुस्तक में मुख्य रूप से सेना द्वारा अपनाया जाने वाले नीति और कार्य करने का तरीका था।[1][2][3][1][4]

अनुवाद[संपादित करें]

इस चीनी भाषा में लिखी गई पुस्तक का पहला अनुवाद वर्ष 1772 में फ्रांसीसी भाषा में किया गया था। उसके बाद इसे वर्ष 1905 में एक अंग्रेज़ ने अंग्रेज़ी में आंशिक रूप से अनुवाद किया था। इसके बाद वर्ष 1910 में इसे पूरी तरह से अनुवाद किया गया।

इतिहास[संपादित करें]

सुन वू द्वारा पहली शताब्दी से चीनी संस्कृति में पहली बार सेना और उनसे जुड़ी जानकारी को पाठ्य के रूप में लिखा जाने लगा था। इसे बाद में वर्ष -514 से -495 के मध्य राजा हेलु द्वारा पढ़ा और समझा जाने लगा। इसी के बाद से इस पुस्तक को "युद्ध की कला" के नाम से जाना जाने लगा। इसके लेखक ने जब अपने घर के स्थान में गए तो उन्होंने बताया कि उन्होंने अपने क्षमता द्वारा कई बाते लिखी, जिसमें महल की महिलाओं को भी युद्ध की कला सीखा कर और परीक्षण देकर अपनी सेना को और भी मजबूत कर सकते हैं। आदि तरीके शामिल थे, जिसे पढ़ने के बाद राजा खुश हो गए।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. McCready, Douglas. Learning from Sun Tzu, Military Review, May–June 2003.[1]
  2. Interview with Dr. William Duiker, Conversation with Sonshi
  3. Forbes, Andrew ; Henley, David (2012). The Illustrated Art of War: Sun Tzu. Chiang Mai: Cognoscenti Books. ASIN: B00B91XX8U
  4. Griffith, Samuel B. The Illustrated Art of War. 2005. Oxford University Press. p. 17, 141-143.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]