द्रुतशीतक

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
एक द्रुतशीतक (चिलर)
संपीडन द्रुतशीतक के प्रमुख अवयव A: गरम क्षेत्र (बाहर), B: ठण्डा कमरा, I: ऊष्मारोधी (इन्सुलेटर), 1: संघनित्र 2, 3. वाष्पित्र (evaporator) 4. संपीडक (कम्प्रेशर)
प्रशीतन का कार्ना चक्र

द्रुतशीतक (chiller) वह यन्त्र है जो वाष्प-संपीडन या शोषण प्रशीतन चक्र का उपयोग करके किसी द्रव से ऊष्मा निकालती है। इस रीति से ठण्डा किया गया यह द्रव जब किसी ऊष्मा विनिमायक से होकर ले जाया जाता है जिससे हवा या कोई उपकरण आदि ठण्डा किये जाते हैं।