दो आँखें बारह हाथ (1957 फ़िल्म)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
दो आँखें बारह हाथ
चित्र:दो आँखें बारह हाथ.jpg
दो आँखें बारह हाथ का पोस्टर
निर्देशक वी शांताराम
अभिनेता वी शांताराम,
संध्या
प्रदर्शन तिथि(याँ) 1957
देश भारत
भाषा हिन्दी

दो आँखें बारह हाथ 1957 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है।

संक्षेप[संपादित करें]

चरित्र[संपादित करें]

एक जेलर ६ केदियो को सुधारने का काम बहुत खुबी से करता हे॥

मुख्य कलाकार[संपादित करें]

दल[संपादित करें]

संगीत[संपादित करें]

सभी गीत भरत व्यास द्वारा लिखित; सारा संगीत वसंत देसाई द्वारा रचित।

क्र॰शीर्षकगायकअवधि
1."ऐ मालिक तेरे बंदे हम"लता मंगेशकर 
2."तक तक धुम धुम"लता मंगेशकर 
3."मैं गाऊं तू चुप हो जा"लता मंगेशकर 
4."सईयां झूठों का बडा सरताज निकला"लता मंगेशकर 
5."हो उमड घुमडकर आई रे घटा"मन्ना डे, लता मंगेशकर 

रोचक तथ्य[संपादित करें]

परिणाम[संपादित करें]

बौक्स ऑफिस[संपादित करें]

समीक्षाएँ[संपादित करें]

नामांकन और पुरस्कार[संपादित करें]

इसे 1959 मे Golden Globe Award से नवाजा गया|

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]