दृश्य प्रदूषण

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
दृश्य प्रदूषण

दृश्य प्रदूषण एक प्रकार की परेशानी है, जो प्रदूषण के कारण उत्पन्न होती है। दृश्य प्रदूषण मनुष्यों के देखने वाले क्षेत्रों में नकारात्मक बदलाव करने पर होते हैं। जैसे हरे भरे पेड़ पौधों को काट देना, मोबाइल आदि के टावर लगा देना। बिजली के खम्बे, सड़क आदि स्थानों में बिखरे कचरे आदि इस श्रेणी में आते हैं। यह एक तरह के बनावट के कारण भी होता है, जिसे बिना पर्यावरण आदि को देखे ही बना दिया जाता है। जैसे किसी स्थान पर केवल इमारत, मकान आदि का होना।

कारण[संपादित करें]

सार्वजनिक स्थानों में जब सरकार या उसकी देख रेख करने वालों का नियंत्रक नहीं होता और व्यापारी अधिक लाभ कमाने के लिए इस तरह के निर्माण करता है। या फिर किसी रिक्त स्थान का उपयोग अपने उद्योग या अन्य किसी इमारत आदि को बनाने हेतु करता है।[1] इसके अलावा बिना किसी योजना या पर्यावरण आदि को अनदेखा कर के बनाई गई इमारत, मकान आदि भी दृश्य प्रदूषण के कारक होते हैं।[2]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Morozan, Cristian; Enache, Elena; Purice, Suzana. "Visual Pollution: A New Axiological Dimension Of Marketing?". University of Pite, Faculty of Management-Marketing in Economic Affairs Brilla. http://anale.steconomiceuoradea.ro/volume/2012/n2/125.pdf. अभिगमन तिथि: 29 March 2013. 
  2. Yilmaz, Demet (May 2011). "In the Context of Visual Pollution: Effects to Trabzon City Center Silhoutte". The Asian Social Science Journal 7 (5): 99. http://search.proquest.com.myaccess.library.utoronto.ca/docview/866420567. अभिगमन तिथि: March 30, 2013. 

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]