दूषित जल उपचार संयंत्र

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

दूषित जल उपचार संयंत्र किसी कारखाने में बने अपशिष्ट जल पर उपचार करने हेतु का संयंत्र होता है। जल प्रदूषण कम करने के लिए ऐसा संयंत्र स्थापित किया जाता है जो जल में मिले प्रदूषीत घटकोंको कम करता है जिस के बाद वह पानी फिर से कारखानों में उपयुक्त हो सके या किसी बडे जल प्रवाह में छोड दिया जा सके।

दूषित जल उपचार प्रक्रिया[संपादित करें]

दूषित जल उपचार प्रक्रिया में प्राथमिक उपचार के दौरान कुछ भौतिक प्रक्रियाओं के माध्यम से जल में उपस्थित अशुद्धि को दूर किया जाता है। ये प्रक्रियाएँ निम्नानुसार हैं:

औद्योगिक अपशिष्ट जल के स्रोत[संपादित करें]

बैटरी विनिर्माण[संपादित करें]

बैटरी विनिर्माण उद्योग में से कई प्रकार के प्रदूषीत घटक पानी में मिल जाते है जैसे कि कैडमियम, क्रोमियम, कोबाल्ट, तांबा, साइनाइड, लौह, सीसा, मैंगनीज, पारा, निकल, तेल, ग्रीज, चांदी और जस्ता[2]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "संग्रहीत प्रति". मूल से 14 जून 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 27 सितंबर 2018.
  2. "Battery Manufacturing Effluent Guidelines". १८ जुलाई २०१८. मूल से 26 अगस्त 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 28 सितंबर 2018.