दुष्चक्र में सृष्टा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
दुष्चक्र में सृष्टा  
[[चित्र:|150px]]
मुखपृष्ठ
लेखक वीरेन डंगवाल
देश भारत
भाषा हिंदी
विषय सामाजिक
प्रकाशक राजकमल प्रकाशन, नई दिल्ली-११० ००२
प्रकाशन तिथि २००२
पृष्ठ ११६
आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ ८१-२६७-०४१३-६

दुष्चक्र में सृष्टा हिन्दी के कवि वीरेन डंगवाल का कविता संग्रह है। इसका प्रकाशन वर्ष २००२ में हुआ और इसे वर्ष २००४ का साहित्य अकादमी पुरस्कार दिया गया।