दुन्स स्कोतुस

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
जॉन दुन्स स्कोतुस
JohnDunsScotus - full.jpg
The Subtle Doctor
जन्म c. १२६६
Duns, County of Berwick, Kingdom of Scotland
मृत्यु ८ नवंबर १३०८
कोलोन, Electorate of Cologne, पवित्र रोम साम्राज्य
शिक्षा प्राप्त की ऑक्सफ़र्ड विश्वविद्यालय[1][2]
युग Medieval philosophy
क्षेत्र पाश्चात्य दर्शन
Main interests
तत्वमीमांसा(Metaphysics), धर्ममीमांसा(theology), तर्कशास्त्र(logic), ज्ञानमीमांसा(epistemology), आचारशास्त्र(ethics)
Notable ideas
Univocity of being, haecceity as a principle of individuation, Immaculate Conception of the Virgin Mary

जॉन दुन्स (१२६६ ईस्वी – ८ नवंबर १३०८ ईस्वी) आमतौर से दुन्स स्कोतुस के नाम जाने जाते हैं। ये माना जाता हैं के यरोप के मध्य युग के महत्वपूर्ण दार्शनिक और थेअलोजियन थे। स्कोतुस ने दोनों कैथोलिक ईसाईयत और सेक्युलर विचारधारों को प्रभावित किया ।


सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Hugh T. Kerr, Readings in Christian Thought: Second Edition, Abingdon Press, 2010: "Duns Scotus (c. 1264-1308)".
  2. He has long been claimed as a Merton alumnus, but there is no contemporary evidence to support this claim and as a Franciscan, he would have been ineligible for fellowships at Merton (see Martin, G. H. & Highfield, J. R. L. (1997). A History of Merton College. Oxford: Oxford University Press, p. 53).

सन्दर्भ ग्रन्थ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]