दुधनोई-मेहंदीपत्थर रेल लाइन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
दुधनोई-मेहंदीपत्थर रेल लाइन
अवलोकन
स्थिति प्रचालन में
स्थान मेघालय,
टर्मिनी दुधनोई रेलवे स्टेशन
मेहंदीपत्थर 
स्टेशन 1
ऑपरेशन
प्रारंभिक २९ नवंबर, २०१४ (2014-11-29)
चालक
तकनीकी
लाइन की लंबाई १९ किमी. (१२ मील)
पटरियों की नाप 1,676 मि॰मी॰ (5 फीट 6 इंच) ब्रॉड गेज
संचालन गति 50 किमी/घंटा (31 मील/घंटा)

दुधनोई-मेहंदीपत्थर रेल लाइन पूर्वोत्तर भारतीय राज्यों असम के दुधनोई से मेघालय के मेहंदीपत्थर के बीच एक रेल सम्पर्क लाइन है। यह मूल रूप से मुख्य शाखा बरौनी-गुवाहाटी रेल लाइन की एक शाखा है।[1][2]

इतिहास[संपादित करें]

असम में दुधनोई और मेघालय में दीपा के बीच रेल लाइन का केन्द्रीय रेल-बजट १९९२-९३ में प्रस्ताव आया था। कालान्तर में स्थानीय लोगों के विरोध के कारण वर्ष २००७ में इसे दुधनोई-मेहंदीपत्थर में बदल दिया गया। असम और मेघालय सरकारों द्वारा भूमि अधिग्रहण में विलम्ब के कारण यह परियोजना २०१३ तक लम्बित हो गयी। अन्ततः २०१३ में भूमि अधिग्रहण कार्य सम्पन्न हुआ। 

यह रेल लाइन पर्वतीय राज्य मेघालय की पहली और एकमात्र रेल लाइन है। मेहन्दीपत्थर का उद्घाटन तत्कालीन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा ३० नवंबर २०१४ को मेहन्दी पत्थर में आयोजित कार्यक्रम में उपस्थित जनसमूह को एक वीडियो कान्फ़्रेन्सिंग द्वारा सम्बोधित कर किया गया था। [3]

मेहंदीपत्थर-गुवाहाटी पैसेञ्जर इस रेलमार्ग की एकमात्र गाड़ी है।

विद्युतीकरण[संपादित करें]

पूरी बरौनी–गुवाहाटी लाइन मार्ग के विद्युतीकरण नियोजित है।[4]

संदर्भ[संपादित करें]

  1. "Railway budget 1992-93".
  2. "First railway station in Meghalaya".
  3. "Statement showing Category-wise No. of stations in IR based on Pass. earning of 2011" (PDF). अभिगमन तिथि 15 January 2016.
  4. "Railway electrification project to touch North East soon". Business Standard. 23 August 2011. अभिगमन तिथि 2011-12-10.