दीपदान

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

'दीपदान' निम्नलिखित अर्थों में प्रयुक्त हो सकता है-

  1. किसी नदी, देवता आदि की स्तुति करते हुए दीपक जलाना। चित्रकूट में दीपदान मेला लगता है।
  2. डॉ रामकुमार वर्मा द्वारा रचित नाटक
  3. मैथिलीशरण गुप्त का काव्यग्रन्थ

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]