दिल्ली दरवाजा, दिल्ली

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
(दिल्ली गेट से अनुप्रेषित)
Jump to navigation Jump to search

निर्देशांक: 28°38′28″N 77°14′26″E / 28.641196°N 77.240511°E / 28.641196; 77.240511

दिल्ली दरवाजा

दिल्ली दरवाजा, पुरानी दिल्ली के दरियागंज को नई दिल्ली से जोड़ता है।
दिल्ली दरवाजा, दिल्ली की नई दिल्ली के मानचित्र पर अवस्थिति
दिल्ली दरवाजा, दिल्ली
India New Delhi के नक़्शे पर अवस्थिति
सामान्य जानकारी
कस्बा या शहर दिल्ली
देश भारत
निर्देशांक 28°38′28″N 77°14′26″E / 28.641196°N 77.240511°E / 28.641196; 77.240511
पूर्ण १६३८
डिजाइन और निर्माण
ग्राहक दिल्ली सरकार

दिल्ली दरवाजा (जिसे दिल्ली गेट भी कहा जाता है) दिल्ली शहर के दक्षिणी ओर का नगर रक्षक द्वार था। यह द्वार पुरानी दिल्ली क्षेत्र (शाहजहानाबाद) और नई दिल्ली क्षेत्र के बीच स्थित है। पुरानी दिल्ली क्षेत्र के नेताजी सुभाष मार्ग एवं नई दिल्ली क्षेत्र के बहादुर शाह ज़फ़र मार्ग के बीच यह दरयागंज के छोर पर स्थित है। इस दरवाजे का निर्माण मुगल बादशाह शाहजहां ने १६३८ में दिल्ली के सातवे शहर तथा तत्कालीन राजधानी शहर शाहजहानाबाद की घेराबन्दी करती रक्षक दीवार के प्रवेशद्वार के रूप में करवाया था। बादशाह इस द्वार का उपयोग नमाज करने हेतु जामा मस्जिद जाने के ल्लिये किया करता था। यह द्वार नगर के तत्कालीन उत्तरी द्वार कश्मीरी दरवाजे (१८३८) से मिलता जुलता था एवं इसे हाथी-पोल भी कहा जाता थाआ। यह लाल बलुआ पत्थर एवं अन्य पत्थरों से बड़े आकार का करवाया गया था। द्वार के निकट ही दो बड़े बड़े हाथी की मूर्तियां भी बनी थीं। इसे पहले हाथी पोल भी कहा जाता था।[1]

इस दरवाजे से निकलती सड़क उत्तरी ओर मुख्य शहर से गुजरती हुई उत्तरी द्वार, कश्मीरी दरवाजे तक जाती थी, एवं दरियागंज से निकलती है। वहाम की दीवार का कुछ भाग दिल्ली जंक्शन रेलवे स्टेशन के निर्माण हेतु ध्वस्त कर दिया गया था। वर्तमान में इस इमारत को ऐतिहासिक स्मारक रूप में संरक्षित किया गया है, तथा इसका रखरखाव भारतीय पुरातात्त्विक सर्वेक्षण विभाग द्वारा किया जा रहा है। [2][3][4][5]

पुरानी दिल्ली ओर से दरवाजे का दृश्य
















मेट्रो स्टेशन[संपादित करें]

दिल्ली गेट के निकट ही दिल्ली गेट मेट्रो स्टेशन भी स्थित है। यह दिल्ली मेट्रो वायलेट लाइन का स्टेशन है एवं जामा मस्जिद से आईटीओ स्टेशनों के बीच पड़ता है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. धरोहर हम संभालेंगे, अर्चना, लाइव हिन्दुस्तान, १५-०४-२०१३
  2. Fanshawe.H.C (१९९८). देल्ही, पास्ट एण्ड प्रेज़ेन्ट. general introduction. एशियन एड्युकेश्नल सर्विसेज़. पपृ॰ 1–8. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-81-206-1318-8. अभिगमन तिथि 10 June 2009.
  3. "कॉमनवेल्थ गेम्स-२०१०, कन्ज़र्वेशन, रेस्टोरेशन एण्ड अपग्रेडेशन ऑफ़ पब्लिक एमिनिटीज़ ऍट प्रोटेक्टेड मॉन्युमेण्ट्स" (पीडीएफ़). किला राय पिथौरा वॉल. भारतीय पुरातात्त्विक सर्वेक्षण विभाग, दिल्ली मण्डल. २००६. पृ॰ ५५.
  4. महताब जहान (२००४). "दिल्ली'ज़ गेट्स एण्ड विण्डोज़". एमजी द मिनि गैज़ेट इण्डियन मुस्लिम्स लीडिंग न्यूज़पेपर. अभिगमन तिथि १७ मई, २००९. |accessdate= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  5. Patrick Horton; Richard Plunkett; Hugh Fnlay (२००२). देल्ही. वॉल्स एण्ड गेट्स. लोनली प्लानेट. पपृ॰ ९२-९४. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-1-86450-297-8. अभिगमन तिथि १३ जून, २००९. |accessdate= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]